"सरस पायस" पर सभी अतिथियों का हार्दिक स्वागत है!

सोमवार, मई 02, 2011

मीठी-मीठी बात : रावेंद्रकुमार रवि की शिशुकविता


मेरे जन्म-दिवस पर 
दुनिया के सभी बच्चों के लिए 
मेरी तरफ से बहुत-सी शुभकामनाएँ, 
मेरी इस मीठी-मीठी सरस कविता के साथ!

मीठी-मीठी बात

मेरी माँ ने 
मुझे खिलाई - 
मीठी पूरी 
और दही !

उसके बाद 
कान में मेरे 
मीठी-मीठी 
बात कही --

वे बच्चे 
मीठे होते हैं, 
जो बोलें 
मीठी बोली ! 

मेरा फोटो

रावेंद्रकुमार रवि

14 टिप्‍पणियां:

AlbelaKhatri.com ने कहा…

janmdin mubaraq ho ji........

kavita bahut pyari hai

badhaai !

sudhir saxena 'sudhi' ने कहा…

जनम दिवस पर
मीठी-मीठी
शुभकामनाएं और
बधाई!
-'सुधि'

चंदन कुमार झा ने कहा…

भैया आपको जन्मदिन की ढ़ेर सारी शुभकामनायें......

बहुत हीं सुन्दर शिशुगीत....

धन्यवाद !!!

डॉ. नागेश पांडेय "संजय" ने कहा…

बहुत खूब . आज मेरी बिटिया सृष्टि का भी जन्म दिन है . ... बधाई .

चैतन्य शर्मा ने कहा…

रवि अंकल आपको जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनायें......हैप्पी बर्थ डे टू यू....

Udan Tashtari ने कहा…

जन्मदिन की शुभकामनायें

Patali-The-Village ने कहा…

आपको जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनायें|

Coral ने कहा…

आपको जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनायें हमारी तरफ से .....


Happy Birthday .... Rimjhim

घनश्याम मौर्य ने कहा…

मेरी ओर से भी जन्‍मदिन की बधाई स्‍वीकार करें।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

अजी साहब!
हमने तो कल ही आपको जन्मदिन की
बधाई दे दी थी!
--
इस अवसर पर बहुत प्यारी सी
बालकविता प्रस्तुत की है आपने!
--
जन्मदिन की शुभकामनाओं सहित!

Kailash C Sharma ने कहा…

जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं!

सैयद | Syed ने कहा…

जन्मदिन की बहुत बहु बधाई और शुभकामनाएँ

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

जन्मदिन की ढ़ेर सारी शुभकामनायें......

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

जन्मदिन कि बधाई और शुभकामनायें

Related Posts with Thumbnails

"सरस पायस" पर प्रकाशित रचनाएँ ई-मेल द्वारा पढ़ने के लिए

नीचे बने आयत में अपना ई-मेल पता भरकर

Subscribe पर क्लिक् कीजिए

प्रेषक : FeedBurner

नियमावली : कोई भी भेज सकता है, "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ रचनाएँ!

"सरस पायस" के अनुरूप बनाने के लिए प्रकाशनार्थ स्वीकृत रचनाओं में आवश्यक संपादन किया जा सकता है। रचना का शीर्षक भी बदला जा सकता है। ये परिवर्तन समूह : "आओ, मन का गीत रचें" के माध्यम से भी किए जाते हैं!

प्रकाशित/प्रकाश्य रचना की सूचना अविलंब संबंधित ईमेल पते पर भेज दी जाती है।

मानक वर्तनी का ध्यान रखकर यूनिकोड लिपि (देवनागरी) में टंकित, पूर्णत: मौलिक, स्वसृजित, अप्रकाशित, अप्रसारित, संबंधित फ़ोटो/चित्रयुक्त व अन्यत्र विचाराधीन नहीं रचनाओं को प्रकाशन में प्राथमिकता दी जाती है।

रचनाकारों से अपेक्षा की जाती है कि वे "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ भेजी गई रचना को प्रकाशन से पूर्व या पश्चात अपने ब्लॉग पर प्रकाशित न करें और अन्यत्र कहीं भी प्रकाशित न करवाएँ! अन्यथा की स्थिति में रचना का प्रकाशन रोका जा सकता है और प्रकाशित रचना को हटाया जा सकता है!

पूर्व प्रकाशित रचनाएँ पसंद आने पर ही मँगाई जाती हैं!

"सरस पायस" बच्चों के लिए अंतरजाल पर प्रकाशित पूर्णत: अव्यावसायिक हिंदी साहित्यिक पत्रिका है। इस पर रचना प्रकाशन के लिए कोई धनराशि ली या दी नहीं जाती है।

अन्य किसी भी बात के लिए सीधे "सरस पायस" के संपादक से संपर्क किया जा सकता है।

आवृत्ति