"सरस पायस" पर सभी अतिथियों का हार्दिक स्वागत है!

गुरुवार, जून 02, 2011

ताज़ पहनवाकर सुंदर-सा लविज़ा को जितवाना है

मेरी मुस्कान ही सब कुछ कहती है!

लविज़ा का कहना है! 


लविज़ा ने एक फ़ोटो प्रतियोगिता में हिस्सा लिया है! 
उसे जितवाने के लिए मैं और सरस पायस
रोज़ उसे वोट दे रहे हैं!
----------

सरस पायस के सभी दर्शकों + पाठकों से अनुरोध है
कि वे भी उसे रोज़ वोट देकर
प्रतियोगिता जीतने में उसकी मदद करें! 





Name
: Laviza
Last Name
: Akbar
Father Name
: Syed
Mother Name
: Saba
Name Meaning
: Achiever
Birthday
: 2008-04-30


वोट देने के लिए Vote पर क्लिक् कीजिए!

  Vote
             (Don't forget... you can come and vote everyday!)
----------------------------------------------------------------------------
( वोट देने के लिए आपको अपनी मेल आई डी का पासवर्ड नहीं देना होता है!
नया पासवर्ड देकर रजिस्टर करवाना होता है!
आपको रोज़ाना मतदान करना है!
भूलिएगा मत! )
----------------------------------------------------------------------------

8 टिप्‍पणियां:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

लविजा के लिए शुभकामनाएँ!

Coral ने कहा…

बहुत सारे प्यार के साथ शुभकामनाये लवी !

डॉ. नागेश पांडेय "संजय" ने कहा…

शुभकामनाएँ!

http://baal-mandir.blogspot.com/

Patali-The-Village ने कहा…

बहुत सारे प्यार के साथ शुभकामनाये|

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

मैंने वोट दे दिया लविज़ा को.
लविज़ा जल्द ही तुम सबसे आगे होगी.:)

Er. सत्यम शिवम ने कहा…

आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (04.06.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
चर्चाकार:-Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)
स्पेशल काव्यमयी चर्चाः-“चाहत” (आरती झा)

Udan Tashtari ने कहा…

जरुर, प्यारी लवि के लिए.

Udan Tashtari ने कहा…

जरुर, प्यारी लवि के लिए.

Related Posts with Thumbnails

"सरस पायस" पर प्रकाशित रचनाएँ ई-मेल द्वारा पढ़ने के लिए

नीचे बने आयत में अपना ई-मेल पता भरकर

Subscribe पर क्लिक् कीजिए

प्रेषक : FeedBurner

नियमावली : कोई भी भेज सकता है, "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ रचनाएँ!

"सरस पायस" के अनुरूप बनाने के लिए प्रकाशनार्थ स्वीकृत रचनाओं में आवश्यक संपादन किया जा सकता है। रचना का शीर्षक भी बदला जा सकता है। ये परिवर्तन समूह : "आओ, मन का गीत रचें" के माध्यम से भी किए जाते हैं!

प्रकाशित/प्रकाश्य रचना की सूचना अविलंब संबंधित ईमेल पते पर भेज दी जाती है।

मानक वर्तनी का ध्यान रखकर यूनिकोड लिपि (देवनागरी) में टंकित, पूर्णत: मौलिक, स्वसृजित, अप्रकाशित, अप्रसारित, संबंधित फ़ोटो/चित्रयुक्त व अन्यत्र विचाराधीन नहीं रचनाओं को प्रकाशन में प्राथमिकता दी जाती है।

रचनाकारों से अपेक्षा की जाती है कि वे "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ भेजी गई रचना को प्रकाशन से पूर्व या पश्चात अपने ब्लॉग पर प्रकाशित न करें और अन्यत्र कहीं भी प्रकाशित न करवाएँ! अन्यथा की स्थिति में रचना का प्रकाशन रोका जा सकता है और प्रकाशित रचना को हटाया जा सकता है!

पूर्व प्रकाशित रचनाएँ पसंद आने पर ही मँगाई जाती हैं!

"सरस पायस" बच्चों के लिए अंतरजाल पर प्रकाशित पूर्णत: अव्यावसायिक हिंदी साहित्यिक पत्रिका है। इस पर रचना प्रकाशन के लिए कोई धनराशि ली या दी नहीं जाती है।

अन्य किसी भी बात के लिए सीधे "सरस पायस" के संपादक से संपर्क किया जा सकता है।

आवृत्ति