"सरस पायस" पर सभी अतिथियों का हार्दिक स्वागत है!

गुरुवार, जनवरी 14, 2010

एक चील जो चाँद पे अंडे देती थी ... ... . : सुशील शुक्ल की एक ताज़ा बालकविता

हिंदी में बच्चों के लिए प्रकाशित होनेवाली सबसे बढ़िया पत्रिका है -
चकमक के संपादक सुशील शुक्ल 
बहुत ही अनूठे अंदाज़ में बच्चों के लिए कविताएँ रचते हैं!
अभी कुछ देर पहले फोन पर मुझे उनसे इस कविता को 
"सरस पायस" पर प्रकाशित करने की अनुमति मिली! 
बिना एक भी पल गँवाए आभार और प्रसन्नता के साथ 
 मैं उनकी यह कविता आप सबके सम्मुख रख रहा हूँ!
"कविता को स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए कविता के ऊपर कहीं भी क्लिक् कर दीजिए!"

"सभी आदरणीय टिप्पणीकारों से विनम्र अनुरोध है कि 
इस कविता के लिए समीक्षात्मक टिप्पणी करने का प्रयास करें!" 

7 टिप्‍पणियां:

निर्मला कपिला ने कहा…

कविता अस्पश्ट सी पढी जा सकी पूरी समझ नहीं आयी। इस लिये क्या कहूँ । मकर संक्राँति की बहुत बहुत शुभकामनायें

राज भाटिय़ा ने कहा…

हम तो यही कहेगे बहुत सुंदर है जी आप की यह कविता, इसे पढने के लिये चित्र को बडा करे

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

"सुशील की कविताओं में जो ताजगी व अनूठापन होता है,
वह इस कविता में भी है ।"
--
गिरिजा कुलश्रेष्ठ

मोहल्ला - कोटा वाला, खारे कुएँ के पास,
ग्वालियर, मध्य प्रदेश (भारत)
--
मेल से प्रेषित संदेश!

ACHARYA RAMESH SACHDEVA ने कहा…

BAL VIGYAN PATRIKA KI MEMBERSHIP KAISE MIL SAKTI H.
HOW I CAN GET THIS MAGAZINE REGULAR.
PLEASE INTIMATE ABOUT COMPLETE PROCEDURE OF MEMBERSHIP.

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

चकमक का सदस्यता शुल्क इस प्रकार है -

एक प्रति : रु. 20.00
वार्षिक : रु. 200.00 (व्यक्तिगत) व रु. 300.00 (संस्थागत)
तीन साल : रु. 500.00 (व्यक्तिगत) व रु. 700.00 (संस्थागत)
आजीवन : रु. 3000.00 (व्यक्तिगत) व रु. 4000.00 (संस्थागत)

चंदा ("एकलव्य" के नाम से बने) मनीऑर्डर / चेक से भेजा जा सकता है!
भोपाल के बाहर के चेक में रु. 80.00 अतिरिक्त जोड़ें!
भेजने का पता है -

"एकलव्य",
ई - 10, शंकरनगर,
बी.डी.ए. कॉलोनी, शिवाजीनगर,
भोपाल, म. प्र. (भारत) - 462016

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

सुनील शुक्ल जी को बधाई!
सरस पायस पर इसको सजाने के लिए रवि जी को धन्यवाद!

अभिषेक प्रसाद 'अवि' ने कहा…

ek umda abhivyakti ke sath bahut hi saral kavita... likhi bachho ke liye gayi ho par charitarth sab par hota hai...

Related Posts with Thumbnails

"सरस पायस" पर प्रकाशित रचनाएँ ई-मेल द्वारा पढ़ने के लिए

नीचे बने आयत में अपना ई-मेल पता भरकर

Subscribe पर क्लिक् कीजिए

प्रेषक : FeedBurner

नियमावली : कोई भी भेज सकता है, "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ रचनाएँ!

"सरस पायस" के अनुरूप बनाने के लिए प्रकाशनार्थ स्वीकृत रचनाओं में आवश्यक संपादन किया जा सकता है। रचना का शीर्षक भी बदला जा सकता है। ये परिवर्तन समूह : "आओ, मन का गीत रचें" के माध्यम से भी किए जाते हैं!

प्रकाशित/प्रकाश्य रचना की सूचना अविलंब संबंधित ईमेल पते पर भेज दी जाती है।

मानक वर्तनी का ध्यान रखकर यूनिकोड लिपि (देवनागरी) में टंकित, पूर्णत: मौलिक, स्वसृजित, अप्रकाशित, अप्रसारित, संबंधित फ़ोटो/चित्रयुक्त व अन्यत्र विचाराधीन नहीं रचनाओं को प्रकाशन में प्राथमिकता दी जाती है।

रचनाकारों से अपेक्षा की जाती है कि वे "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ भेजी गई रचना को प्रकाशन से पूर्व या पश्चात अपने ब्लॉग पर प्रकाशित न करें और अन्यत्र कहीं भी प्रकाशित न करवाएँ! अन्यथा की स्थिति में रचना का प्रकाशन रोका जा सकता है और प्रकाशित रचना को हटाया जा सकता है!

पूर्व प्रकाशित रचनाएँ पसंद आने पर ही मँगाई जाती हैं!

"सरस पायस" बच्चों के लिए अंतरजाल पर प्रकाशित पूर्णत: अव्यावसायिक हिंदी साहित्यिक पत्रिका है। इस पर रचना प्रकाशन के लिए कोई धनराशि ली या दी नहीं जाती है।

अन्य किसी भी बात के लिए सीधे "सरस पायस" के संपादक से संपर्क किया जा सकता है।

आवृत्ति