"सरस पायस" पर सभी अतिथियों का हार्दिक स्वागत है!

बुधवार, फ़रवरी 03, 2010

रवि मन : स्वरचित रचनाओं से सजा मेरा नया ब्लॉग

"रवि मन"









यह है - मेरे  नवेले ब्लॉग का सुनहरा नाम!
इस पर मैं स्वरचित  रचनाओं का प्रकाशन किया करूँगा!
मैं "रवि मन" पर स्वागत करता -
आप सभी मनमानों का,
मन में भरकर सरस मिठास!
मन से आइए 
और मन से पढ़िए - 
मेरी मन-भाती रचना - 

मुझको बता दो

--
आशा ही नहीं विश्वास है -
"सरस पायस" और "हिंदी का शृंगार" की तरह 
"रवि मन" को भी आपका स्नेह मन से  ही मिलेगा!
--
रावेंद्रकुमार रवि

4 टिप्‍पणियां:

Udan Tashtari ने कहा…

शुभकामनाएँ.

Suman ने कहा…

nice

संगीता पुरी ने कहा…

शुभकामनाएं !!

निर्मला कपिला ने कहा…

बहुत बहुत शुभकामनायें

Related Posts with Thumbnails

"सरस पायस" पर प्रकाशित रचनाएँ ई-मेल द्वारा पढ़ने के लिए

नीचे बने आयत में अपना ई-मेल पता भरकर

Subscribe पर क्लिक् कीजिए

प्रेषक : FeedBurner

नियमावली : कोई भी भेज सकता है, "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ रचनाएँ!

"सरस पायस" के अनुरूप बनाने के लिए प्रकाशनार्थ स्वीकृत रचनाओं में आवश्यक संपादन किया जा सकता है। रचना का शीर्षक भी बदला जा सकता है। ये परिवर्तन समूह : "आओ, मन का गीत रचें" के माध्यम से भी किए जाते हैं!

प्रकाशित/प्रकाश्य रचना की सूचना अविलंब संबंधित ईमेल पते पर भेज दी जाती है।

मानक वर्तनी का ध्यान रखकर यूनिकोड लिपि (देवनागरी) में टंकित, पूर्णत: मौलिक, स्वसृजित, अप्रकाशित, अप्रसारित, संबंधित फ़ोटो/चित्रयुक्त व अन्यत्र विचाराधीन नहीं रचनाओं को प्रकाशन में प्राथमिकता दी जाती है।

रचनाकारों से अपेक्षा की जाती है कि वे "सरस पायस" पर प्रकाशनार्थ भेजी गई रचना को प्रकाशन से पूर्व या पश्चात अपने ब्लॉग पर प्रकाशित न करें और अन्यत्र कहीं भी प्रकाशित न करवाएँ! अन्यथा की स्थिति में रचना का प्रकाशन रोका जा सकता है और प्रकाशित रचना को हटाया जा सकता है!

पूर्व प्रकाशित रचनाएँ पसंद आने पर ही मँगाई जाती हैं!

"सरस पायस" बच्चों के लिए अंतरजाल पर प्रकाशित पूर्णत: अव्यावसायिक हिंदी साहित्यिक पत्रिका है। इस पर रचना प्रकाशन के लिए कोई धनराशि ली या दी नहीं जाती है।

अन्य किसी भी बात के लिए सीधे "सरस पायस" के संपादक से संपर्क किया जा सकता है।

आवृत्ति